Skip to content

सिंगापुर में भारतीय नर्सों की भारी मांग, अच्छी सैलरी भी है मगर एक समस्या है..

सिंगापुर भारत और फिलीपींस समेत उन देशों से नर्सों की मांग पूरी कर रहा है जहां वीजा प्रक्रिया तुलनात्मक रूप से सहज हो गई है। सिंगापुर नर्सिंग बोर्ड के अनुसार देश में काम करने की इच्छा रखने वाली विदेशी प्रशिक्षित नर्सों को एक लाइसेंस परीक्षा देनी होती है और एक योग्यता मूल्यांकन से गुजरना होता है।

Photo by Irwan iwe / Unsplash

कोरोना महामारी के बाद दुनियाभर में नर्सों की मांग बढ़ गई है। मांग के साथ ही मेहनताना भी बढ़ा है। सिंगापुर में भी भारतीय नर्सों के लिए अच्छे अवसर पैदा हुए हैं। विशेषज्ञों और स्वास्थ्य-सेवा कर्मियों का कहना है कि इस मामले में सिंगापुर बाकी देशों से कुछ आगे है। वहां वेतन पैकेज भी बेहतर है। बावजूद इसके एक समस्या है।

The dedication of our Hospital personnel
सिंगापुर में वेतन और मेहनताना पैकेज भी बेहतर है। बावजूद इसके एक समस्या है। Photo by Hush Naidoo Jade Photography / Unsplash

सिंगापुर भारत और फिलीपींस समेत उन देशों से नर्सों की मांग पूरी कर रहा है जहां वीजा प्रक्रिया तुलनात्मक रूप से सहज हो गई है। लेकिन एक मीडिया रिपोर्ट के अनुसार सिंगापुर में इनके सामने सबसे बड़ी समस्या है टिककर रहने की। नर्सों को सिंगापुर में टिककर रहना या बसना मुश्किल हो रहा है। ऐसे में वह किसी दूसरे देश में जाने की फिराक में लगे रहते हैं।

This post is for paying subscribers only

Subscribe

Already have an account? Log in