Skip to content

भारत को जानें: अमेरिका में बसे युवा प्रवासियों के लिए अद्भुत मौका

विदेश मंत्रालय द्वारा एक साल में 6 बार इस कार्यक्रम का आयोजन करता है। हर एक कार्यक्रम के लिए 40 भारतवंशियों का चुनाव होता है और उनकी भारत में शानदार मेजबानी की जाती है। विदेश मंत्रालय की वेबसाइट के अनुसार अंतरराष्ट्रीय यात्रा का 90 प्रतिशत किराया भारत सरकार देती है।

Know India Programme से जुड़ी तस्वीरें। Photo : kip.gov.in

भारत के विदेश मंत्रालय द्वारा प्रवासी युवा भारतीयों के लिए चलाया जाने वाला कार्यक्रम ‘नो इंडिया प्रोग्राम – Know India Programme’ के 66वें और 67वें संस्करण के लिए रजिस्ट्रेशन शुरू हो चुका है। अमेरिका में रह रहे युवा प्रवासी भारतीय भी रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं। अब तक इस प्रोग्राम की मदद से लगभग 2500 युवा प्रवासी भारतीयों को भारत जाने और वहां की संस्कृति से जुड़ने का मौका मिला है।

‘नो इंडिया प्रोग्राम – Know India Programme’ भारत सरकार की एक पहल है जिसके तहत दुनिया भर में फैले भारतीय प्रवासी युवाओं को उनकी मातृभूमि से जोड़ा जाता है। इसमें 18 से 30 वर्ष के युवा ही हिस्सा ले सकते हैं। इसमें विदेश मंत्रालय युवाओं के लिए 25 दिन का ओरिएंटेशन प्रोग्राम आयोजित करता है और इस कार्यक्रम में 2 राज्यों का दौरा भी शामिल किया जाता है। इस बार 66वें और 67वें प्रोग्राम के लिए क्रमश: केरल और महाराष्ट्र को चुना गया है। 66वें प्रोग्राम के लिए रजिस्ट्रेशन 15 जून तक खुले हैं जबकि 67वें प्रोग्राम के लिए 1 जुलाई तक रजिस्ट्रेशन किया जा सकता है।

विदेश मंत्रालय द्वारा एक साल में 6 बार यह प्रोग्राम आयोजन किया जाता है।

भारत का विदेश मंत्रालय एक साल में 6 बार इस कार्यक्रम का आयोजन करता है। हर एक कार्यक्रम के लिए 40 भारतवंशियों का चुनाव होता है और उनकी भारत में शानदार मेजबानी की जाती है। विदेश मंत्रालय की वेबसाइट के अनुसार अंतरराष्ट्रीय यात्रा का 90 प्रतिशत किराया भारत सरकार देती है। चूंकि इस यात्रा का मकसद ही उन्हें अपनी जड़ों से जोड़ना होता है तो उन्हें भारत के ऐतिहासिक धरोहरों और पर्यटक स्थलों पर भी घुमाया जाता है। इसके अलावा ग्रामीण भारत के भी दर्शन कराए जाते हैं ताकि उन्हें ग्रामीण जीवन और वहां हुए विकास की जानकारी हासिल हो सके। विदेश मंत्रालय ने नो इंडिया प्रोग्राम में योग को भी विशेष रूप से जोड़ा है।

 इस दौरान देश के बड़ी राजनीतिक हस्तियों से लेकर उपराष्ट्रपति से मुलाकात का भी अवसर मिलता है। 

यह यात्रा इसलिए भी रोचक होती है क्योंकि इस दौरान देश की बड़ी राजनीतिक हस्तियों से लेकर उपराष्ट्रपति से मुलाकात का अवसर मिलता है। नो इंडिया प्रोग्राम - Know India programme के तहत चुने हुए 40 युवाओं को राष्ट्रपति भवन और संसद भवन के गलियारों में भी घूमने का मौका मिलता है। वे जिन राज्यों का दौरा करते हैं उनके गवर्नर और सीएम के साथ भी एक शिष्टाचार बैठक आयोजित की जाती है।

#India #Indian #Indiandiaspora #Diasporayouth #Indianyouth #USA #Indianorigin #KnowIndiaProgramme #NIA #KIP

Comments