Skip to content

क्या रो खन्ना ने सुधारी गलती? उनके 2 अलग-अलग ट्वीट पर है यह चर्चा

रो खन्ना ने एक ट्वीट करते हुए लिखा कि मैंने @DrSJaishankar की शानदार किताब 'द इंडिया वे' पढ़ी। वह महाभारत को नैतिकता के साथ शक्ति के प्रयोग के रूप परिभाषित करते हैं। अमेरिका-भारत साझेदारी को मजबूत करने के लिए बहुध्रुवीयता के प्रति भारत की प्रतिबद्धता को समझना महत्वपूर्ण है।

भारतीय अमेरिकी कांग्रेसी रो खन्ना ट्विटर पर एक बार फिर चर्चा में हैं। पिछली बार जहां उनकी आलोचना की जा रही थी वहीं इस बार उन्हें एक ट्वीट के लिए सराहा जा रहा है। दरअसल बीते दिनों रो खन्ना अपने एक ट्वीट को लेकर भारत समेत वैश्विक राजनीति के बीच चर्चा का विषय बन गए थे। रो खन्ना ने भारत की मुख्य विपक्षी पार्टी कांग्रेस के नेता राहुल गांधी के संसद से निष्कासन का विरोध करते हुए भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को टैग किया था। लेकिन इस बार उन्होंने भारत के विदेश मंत्री डॉ. एस जयशंकर की तारीफ की है।

रो खन्ना ने 9 अप्रैल को एक ट्वीट करते हुए लिखा कि मैंने @DrSJaishankar की शानदार किताब 'द इंडिया वे' पढ़ी। वह महाभारत को नैतिकता के साथ शक्ति के प्रयोग के रूप परिभाषित करते हैं। अमेरिका-भारत साझेदारी को मजबूत करने के लिए बहुध्रुवीयता के प्रति भारत की प्रतिबद्धता को समझना महत्वपूर्ण है।

इस ट्वीट पर कई भारतीय मूल के यूजर्स ने प्रतिक्रिया दीं। नाथन पुनवानी नाम के एक यूजर ने लिखा, आखिरकार आपसे कुछ प्रो-इंडिया सुनने को मिला। लेकिन मेरी सांसें अभी भी ठहरी हुई हैं। वहीं एक अन्य यूजर शशि कुसुमा ने लिखा कि यहां आपका कहना उचित, समझदारी से भरा और उद्देश्यपूर्ण है। इसकी प्रशंसा की जानी चाहिए।

ऐसे ही शांतनु सिंह ने लिखा कि सुधार करना एक बेहतर इंसान बनने का एक सकारात्मक तरीका है! मैं भविष्य में भारत के बारे में आपसे बेहतर समझ की उम्मीद करता हूं। जब आप बिना शोध करे और सत्य को खोजने के बजाय वास्तविकता से दूर एक निश्चित आख्यान का पालन करते हैं तो आपका वो कर्म व्यर्थ हो जाता है।

रो खन्ना को किए गए इन ट्वीट के पीछे की वजह यही है कि उन्होंने कुछ दिन पहले भारतीय लोकतंत्र पर सवाल उठाए थे जिस पर उनकी आलोचना शुरू हो गई थी। खन्ना ने एक ट्वीट में लिखा था कि राहुल गांधी को संसद की सदस्यता से अयोग्य ठहराया जाना गांधीवादी दर्शन और भारत के गहरे मूल्यों के साथ गहरा विश्वासघात है। यह वह नहीं है जिसके लिए मेरे दादाजी ने अपनी जिंदगी के कई साल जेल में कुर्बान कर दिए थे। इतना ही नहीं खन्ना ने इस ट्वीट में भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को टैग करते हुए लिखा था कि भारतीय लोकतंत्र के हित के लिए आपके पास इस फैसले को पलटने की शक्ति है।

आपको बता दें कि रो खन्ना अमेरिका की प्रतिनिधि सभा में सिलिकॉन वैली का प्रतिनिधित्व करते हैं। वह भारत और भारतीय-अमेरिकियों पर अमेरिकी संसद के कॉकस के सह-अध्यक्ष हैं।

Comments